नीरव-मेहुल के फर्जीवाड़े को लेकर आयकर विभाग ने किया बड़ा खुलासा…

0
3

नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े घोटाले पंजाब नेशनल बैंक घोटाले के मामले में आयकर जांच रिपोर्ट ने एक बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी के भारत छोड़ने से पहले ही एक रिपोर्ट पेश की गई थी जिसमें फर्जी खरीद, स्टोक को बढ़ाकर पेश करना, रिश्तेदारों को संदिग्ध भुगतान और संदिग्ध ऋण को लेकर नीरव के फर्जीवाड़े के बारे में चेताया गया था।

जानकारी के अनुसार आयकर विभाग ने भगोड़ा हीरा कारोबारी नीरव मोदी और मेहुल चोकसी पर 10 हजार पन्नों की आयकर जांच रिपोर्ट को 8 जून 2017 में अंतिम रूप दे दिया था। लेकिन फरवरी 2018 तक इस रिपोर्ट को अन्य दूसरी जांच एजेंसी, गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय (एसएफआईओ), सीबीआई, ईडी, डीआरआई, के साथ साझा नहीं किया गया।

आपको बता दें कि नीरव और चोकसी पर पीएनबी से 13,500 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी का आरोप है। इन दोनों ने घोटाले का खुलासा होने से कुछ हफ्ते पहले जनवरी 2018 में भारत छोड़ दिया था।

गौर हो कि नीरव मोदी को भारत लाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। नीरव के वकील ने शनिवार को विशेष कोर्ट के सामने पीएनबी घोटाले मामले में कहा कि नीरव भारत नहीं आ सकता क्योंकि उसे यहां पर भीड़ हिंसा का शिकार होने का डर सता रहा है और उसकी तुलना रावण से की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here