कैंटोनमेंट बोर्ड ने कैंट में चल रही डेयरियों के खिलाफ चलाई मुहिम, पानी के काटे कनैक्शन…

0
253

डेयरी मालिकों के विरोध का करना पड़ा सामना..

जालंधर कैंट (गुलाटी)। कैंटोनमेंट बोर्ड ने आज दोपहर कैंट में चल रही 44 पशु मालिकों के खिलाफ सख्त कारवाई करते हुए उनके डेयरियों के पानी के कनैक्शन काट दिए गए। हालाकि शुरूआती दौर में कैंट बोर्ड के अधिकारियों को डेयरी मालिकों के विरोध का सामना करना पडऩा। आखिरकार कैंट बोर्ड को पानी के कनैक्शन काटने में सफलता मिल ही गई।

आज दोपहर करीब एक बजे कैंट बोर्ड के अधिकारी प्रदुमन मित्तल एस. के. यादव और मनजिन्दर सिंह की अगुवाई में भारी संख्या में कैंट बोर्ड के कर्मचारी कैंट में चल रही डेयरियों के कुनेक्शन काटने पहुंचे । उन्होंने पहला कनैक्शन मोहल्ला नंबर 3 में चल रही डेयरी का पानी का कुनेक्शन काटा। यहां तक कैंट बोर्ड को करीब डेढ़ घंटा डेयरी मालिक के विरोध का समाना करना पड़ा। डेयरी मालिक का कहना था कि जो नोटिस कैंट बोर्ड ने इन्हें भेजा था उस नोटिस का जवाब दिया हुआ था।

डेयरी मालिक कह रहा था कि कैंट बोर्ड हमारे को डेयरियां चलाने के लिए कोई जगह भी उपलब्ध नहीं करवा रहा है उसने कहा कि आप हमारे बच्चों को नौकरी दे दो हम डेयरी का काम छोड़ देंगे। आखिरकार कैंट बोर्ड के आधिकारियों ने डेयरी मालिक को समझा-बुझा कर उसके पानी का कनैक्शन काट दिया। खबर लिखे जाने तक कैंट बोर्ड तीन डेयरियों के पानी के कनैक्शन बिना किसी विरोध के काट चुका था। इस संबंध में जानकार देते हुए मनजिन्दर सिंह ने कहा कि कैंट में कुल 44 ऐसे लोग है जिन्होंने अपने घरों में पशु रखे हुए है जिन पर ये कारवाई की जाएगी।

उसने बताया कि सभी को 31 दिसबंर 2018 को 10 दिन के भीतर पशु कैंट से बाहर ले जाने को कहा गया था। लेकिन किसी ने अभी तक कोई भी पशु बाहर नहीं निकाला। गौरतलब है कि कैंट को 1995 से नौ कैटल जोन घोषित किया हुआ है। लेकिन कैंट बोर्ड की कछुआ चाल गति के कारण कैंट बोर्ड अब जाकर कैंट को नो कैटल जोन बनाने के लिए मैदान में उतरा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here