3 फरवरी को जिला के 56 हजार बच्चों को पिलाई जाएगी पोलियो ड्रॉप्स : डीसी…

0
66

रोहित शर्मा/ऊना। उपायुक्त ऊना राकेश कुमार प्रजापति ने बताया कि जिला ऊना में सघन पल्स पोलियो प्रतिरक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत चलाए जा रहे अभियान के तहत तीन फरवरी, 2019 को 0-5 वर्ष के लगभग 56 हजार बच्चों को पोलियो ड्रॉप्स पिलाई जाएगी। इसके लिए स्वास्थ्य, आईसीडीएस सहित अन्य संबंध विभागों के लगभग 15 सौ कर्मचारियों की तैनाती की जाएगी। उपायुक्त आज यहां सघन पल्स पोलियो प्रतिरक्षण कार्यक्रम के तहत गठित जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

उन्होने बताया कि 0 से 5 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को पोलियो ड्राप्स पिलाने के लिए जिला के चारों चिकित्सा खंडों अंब, बंगाणा, गगरेट व हरोली तथा जिला के नगरीय क्षेत्रों में 365 बूथ स्थापित किए जाएंगे जिसमें से 342 ग्रामीण तथा 23 शहरी क्षेत्रों में होंगें। जिसमें से ग्रामीण क्षेत्रों में स्थापित होने वाले 342 बूथों में से 98 अंब, 57 बंगाणा, 97 गगरेट व 90 हरोली में होंगे जबकि शहरी क्षेत्रों में स्थापित होने वाले 23 बूथों में से 9 ऊना नगर में जबकि 10 हरोली व 4 गगरेट चिकित्सा खंड के तहत स्थापित होंगें।

ये भी पढ़ें…देहात पुलिस ने करोंड़ों की हैरोइन सहित किया 1 को गिरफ्तार….

इसके अतिरिक्त 8 मोबाइल बूथ तथा 14 ट्रांजिट बूथ भी स्थापित किए जाएंगे। उपायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को जिला के झुग्गी-झोंपडी, ईंट के भटठों, औद्योगिक क्षेत्रों में भी विशेष फोकस करने को कहा ताकि कोई भी बच्चा पोलियो ड्राप्स से वंचित न रहे। इसके अलावा जिला के सभी प्रवेश द्वारों पर भी विशेष व्यवस्था करने के निर्देश दिए।

बैठक में एएसपी विनोद धीमान, सीएमओ डॉ. रमन शर्मा, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. निखिल शर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी स्वास्थ्य डॉ. सुखदीप सिंह सिद्धू, उपनिदेशक उच्च शिक्षा बीआर धीमान, जिला पंचायत अधिकारी रमण शर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी आईसीडीएस सतनाम सिंह, जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ. सुभाष चांदला, आरएम एचआरटीसी जगर नाथ यशपाल ठाकुर, महेश राणा, कांता ठाकुर, गोपाल कृष्ण सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here