एसएमसी शिक्षकों के लिए आई अच्छी खबर…

0
123

हिमाचल प्रदेश। प्रदेश के जिन सरकारी स्कूलों में छह माह से शिक्षकों के पद रिक्त हैं, वहां स्कूल मैनेजमेंट कमेटियां (एसएमसी) शिक्षकों की भर्ती करेंगी। राज्य मंत्रिमंडल की मंजूरी के बाद शुक्रवार को शिक्षा विभाग ने इस बाबत अधिसूचना जारी की। प्रदेश के जनजातीय इलाकों में तीन माह से और अन्य इलाकों में छह माह से शिक्षकों के पद रिक्त हैं।
राज्य सरकार ने स्कूलों में शिक्षकों की कमी दूर करने के लिए जून में एसएमसी से शिक्षक भर्ती करने का फैसला लिया था, लेकिन भर्ती के नियम तय न होने से मामला लटक गया। अब दिसंबर में हुई कैबिनेट बैठक में शिक्षकों के इन रिक्त पदों पर एसएमसी से भर्ती करने का फैसला लिया गया।
बता दें कि धूमल सरकार ने साल 2011 में एसएमसी से शिक्षक भर्ती शुरू की थी। वीरभद्र सरकार में भी यह प्रथा जारी रही। वर्तमान में 2600 से अधिक शिक्षक वर्षों से नियमित करने के लिए सरकार से नीति बनाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन किसी भी सरकार ने इन्हें नियमित नहीं किया। शीतकालीन स्कूलों में नियुक्त 1800 से अधिक एसएमसी शिक्षकों की तो 31 दिसंबर को सेवाएं भी समाप्त हो गई हैं।
फरवरी में स्कूल खुलने पर इन शिक्षकों को सेवा विस्तार मिलेगा या नहीं, इस पर भी संशय है। इसी बीच अब सरकार ने दोबारा एसएमसी के माध्यम से शिक्षक भर्ती करने का फैसला ले लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को सभी पात्र लोगों को एक समान अवसर देते हुए ही शिक्षकों की भर्ती करने के आदेश दिए हुए हैं। ऐसे में सरकार के लिए भी राह आसान नहीं रहने वाली है।फरवरी में स्कूल खुलने पर इन शिक्षकों को सेवा विस्तार मिलेगा या नहीं, इस पर भी संशय है। इसी बीच अब सरकार ने दोबारा एसएमसी के माध्यम से शिक्षक भर्ती करने का फैसला ले लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने सरकार को सभी पात्र लोगों को एक समान अवसर देते हुए ही शिक्षकों की भर्ती करने के आदेश दिए हुए हैं। ऐसे में सरकार के लिए भी राह आसान नहीं रहने वाली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here