कूड़े की लिफ्टिंग प्राइवेट कंपनी से करवाने को लेकर म्युंसिपल यूथ इम्पलाइज फेडरेशन व म्युंसिपल कारपोरेशन वर्करों में रोष…

0
111

मेयर ने कहा इससे वर्कर बेरोजगार नहीं होंगे…
अमृतसर (नितिन कालिया)। वाल्ड सिटी में कूड़े की लिफ्टिंग प्राइवेट कंपनी से करवाने को लेकर म्युंनिसिपल यूथ इम्पलाइज फेडरेशन व म्युनिसिपल कारपोरेशन वर्कर यूनियन के बैनर तले मुलाजिम बिफरे हुए थे।

विवाद को शांत करवाने अमृतसर के मेयर करमजीत सिंह रिंटू हाथी गेट स्थित ऑटो वर्कशाप पहुंचे। वहां उन्होंने यूनियन नेताओं आशू नाहर, सुरेंद्र टोना के नेतृत्व में मुलाजिमों से डेढ़ घंटा बैठक की और विश्वास दिलवाया कि वाल्ड सिटी में प्राइवेट कंपनी से कूड़े की लिफ्टिंग के बावजूद भी मुलाजिम बेरोजगार नहीं होंगे।

मुलाजिमों के लिए निगम में बहुत-सा काम है। मेयर रिंटू ने उन्हें बताया कि आज निगम को चार हजार मुलाजिमों की जरूरत है, जबकि उनके पास मात्र 17 सौ मुलाजिम काम कर रहे हैं। ऐसे में मुलाजिमों को हटाने या बेरोगजार करने का निगम सोच भी नहीं सकता। वाल्ड सिटी में कूड़े की लिफ्टिंग चाहे प्राइवेट कंपनी करेगी, पर शहर के बाकी हिस्सों में मुलाजिमों व निगम की मशीनरी की सख्त जरूरत है। यूनियन नेताओं आशू नाहर, सुरेंद्र टोना, राजकुमार राजू ने मुलाजिमों का दर्द समझने के लिए मेयर का आभार जताया और उन्हें विश्वास दिलवाया कि मुलाजिम पूरी तनदेही से अपनी सेवाएं शहर को दे रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here